Friday, 4 August 2017

शंकर जय किशन-हंसी की तिगुनी डोज


-दीपक दुआ...

शंकर, जय और किशन, तीन भाई, जुड़वा नहीं तुड़वा। बाढ़ आई और शंकर जय बह गए। बाकी बचा किशन यह बात अपनी विधवा और अपाहिज मां को कैसे बताए? लेकिन रियल एस्टेट एजेंट का काम करने वाला किशन पक्का जुगाड़ूकिस्म का है। सो उसने यह जुगाड़ निकाला और अपने डॉक्टर व पुलिस इंस्पैक्टर भाइयों की यूनीफॉर्म पहन कर वह कभी शंकर तो कभी जय बन बैठा। लेकिन दिक्कत तब आई जब उसकी मां ने इन तीनों के लिए ट्विंक्ल, सिंपल और डिंपल को अपनी बहू बनाने का फैसला किया। अब बेचारा अकेला किशन तीन-तीन किरदार एक साथ निभा रहा है। इस दुविधा में उसकी मदद करता है उसका साईंटिस्ट दोस्त बाबर।

8 अगस्त से सब टी.वी. पर हर सोमवार से शुक्रवार रात 10 बजे रहे इस शो शंकर जय किशन-3 इन 1’ में केतन सिंह, फलक नाज, कीर्तिदा मिस्त्री, चित्राशी रावत, आसावरी जोशी, हेमंत पांडेय जैसे कलाकार हैं। सब टी.वी. के नए हैड नीरज व्यास कहते हैं, ‘भारतीय टेलीविजन पर हम पहली बार ऐसा ट्रिपल भूमिका वाला शो लेकर रहे हैं। यह शो कॉमेडी, शरारतों और ड्रामा का सही मिश्रण है। जब नायक जूझता हुआ और तीन किरदारों को संभालता हुआ नजर आता है, उससे उत्पन्न होने वाली मजाकिया स्थितियां देखने लायक हैं। यह कहानी बिल्कुल नई है और लोगों को बांधने वाली है। मुझे उम्मीद है कि दर्शकों को भी यह पसंद आएगी।
 (दीपक दुआ फिल्म समीक्षक पत्रकार हैं। 1993 से फिल्म-पत्रकारिता में सक्रिय। मिजाज से घुमक्कड़। अपने सिनेयात्राब्लॉग के अलावा समाचार पत्रों, पत्रिकाओं, न्यूज पोर्टल आदि के लिए नियमित लिखने वाले दीपक रेडियो टी.वी. से भी जुड़े हुए हैं।)

No comments:

Post a comment