Wednesday, 17 August 2016

डायना पेंटी-मैं मीरा भी हूं और हैप्पी भी



चार साल से भी ज्यादा हो गए डायना पेंटी की पहली फिल्म कॉकटेलको आए हुए। मॉडलिंग से एक्टिंग में आने के बाद अपनी पहली ही फिल्म से तारीफें पाने के बावजूद डायना उसके बाद किसी फिल्म में नहीं आईं। अब वह कॉमेडी फिल्म हैप्पी भाग जाएगीमें अमृतसर में रहने वाली एक पंजाबी लड़की हरप्रीत कौर यानी हैप्पी के किरदार में रही हैं जो अपनी शादी के दिन घर से भाग जाती है और गलती से सरहद पार लाहौर पहुंच जाती है। डायना से हुई मेरी इस बातचीत के कुछ अंश आउटलुक-हिन्दीके 29 अगस्त, 2016 के अंक में छप कर आए हैं। पूरी बातचीत पढ़िए-
कॉकटेल की कामयाबी के बावजूद अगली फिल्म में इतना लंबा अंतराल क्यों?
-हर चीज का एक सही वक्त होता है। मुझे जो ऑफर आ रहे थे वे उतने दिलचस्प नहीं थे कि मैं उनके लिए हां कहती। जबकि यह फिल्म और इसमें मेरा किरदार काफी अलग हैं।

कॉकटेलकी मीरा से कितना अलग है यह किरदार?
- कॉकटेल की मीरा काफी शर्मीली और चुप्पा किस्म की लड़की थी जबकि हैप्पी एक मुंहफट और तेज तर्रार पंजाबी लड़की है जो किसी को भी नानी याद दिला सकती है।

आप खुद असल में कैसी हैं, मीरा जैसी या हैप्पी जैसी?
-मुझे लगता है कि मेरे अंदर ये दोनों ही हैं। मैं मीरा की तरह छुईमुई नहीं हूं लेकिन साथ ही मैं हैप्पी की तरह लाउड भी नहीं हूं।

कॉमेडी करने का अनुभव कैसा रहा?
 -मेरे ख्याल से कॉमेडी करना सबसे मुश्किल होता है। इसमें आपको टाइमिंग का काफी ख्याल रखना पड़ता है। मेरे लिए यह रोल करना एक चुनौती भी था क्योंकि मेरी पिछली फिल्म का किरदार इससे बिल्कुल अलग था।

एक पंजाबी लड़की के रोल के लिए किस तरह की तैयारी करनी पड़ी आपको?
-मैंने कुछ एक वर्कशॉप्स कीं जिसमें मैंने खासतौर पर उच्चारण सीखा। पंजाबी लड़कियां किस तरह से रहती हैं, कैसे बात करती हैं, इस पर भी गौर किया और जितना हो सका, मैंने सीखने की कोशिश की।

आगे किस तरह की फिल्में करना चाहेंगी?
-मैं वे फिल्में करना चाहती हूं जो मुझे बोर करें। स्क्रिप्ट पढ़ते समय मुझे लगे कि हां यह फिल्म लोगों का मनोरंजन कर पाएगी तो मैं उसे जरूर करना चाहूंगी।
-दीपक दुआ

No comments:

Post a comment